International  News 

ट्रंप अगर बाइडेन से हारे तो 28 साल का रिकॉर्ड टूटेगा

US President Election 2020 : डोनाल्ड ट्रंप ज्यादातर सर्वेक्षणों में डेमोक्रेट प्रत्याशी जो बाइडेन से पीछे चल रहे हैं. ट्रंप तीन नवंबर  राष्ट्रपति चुनाव हारते हैं तो 28

साल का रिकॉर्ड टूट जाएगा

US President Election 2020 : ट्रंप अगर बाइडेन से हारे तो 28 साल का रिकॉर्ड टूटेगा

US President Election 2020 : डोनाल्ड ट्रंप पर भारी पड़ते दिख रहे हैं जो बाइडेन

नई दिल्ली: 

US President Election 2020 : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) ज्यादातर चुनावी सर्वेक्षणों में डेमोक्रेट प्रत्याशी जो बाइडेन (Joe Biden) से काफी पीछे चल रहे हैं.अगर डोनाल्ड ट्रंप तीन नवंबर (US President Election Date) का राष्ट्रपति चुनाव हारते हैं तो 28 साल का रिकॉर्ड टूट जाएगा.

ऐसा हुआ तो 1992 में जॉर्ज बुश सीनियर (George Bush) के बाद वे पहले राष्ट्रपति होंगे, जिन्हें दूसरा कार्यकाल नहीं मिल पाया. बुश सीनियर भी रिपब्लिकन (Republican)  थे. सीनियर बुश एक कार्यकाल के बाद 1992 का चुनाव हार गए थे. उसके बाद डेमोक्रेट बिल क्लिंटन (Bill Clinton), रिपब्लिकन जॉर्ज बुश और डेमोक्रेट बराक ओबामा (Barack Obama) 8-8 साल राष्ट्रपति रहे हैं. ट्रंप अपना चार साल का एक टर्म पूरा कर चुके हैं.

बाइडेन जीते तो 32 साल पुराना रिकॉर्ड दोहराएगा
78 साल के बाइडेन चुनाव जीतते हैं तो 32 साल पुराना रिकॉर्ड दोहराएगा. मजे की बात है कि वह भी जार्ज बुश सीनियर का रिकॉर्ड दोहराएंगे. दरअसल, 1988 में राष्ट्रपति बनने से पहले बुश सीनियर उनके पूर्ववर्ती प्रेसीडेंट रोनाल्ड रीगन (Ronald Regan) के कार्यकाल में आठ साल वाइस प्रेसीडेंट रहे थे. तब अमेरिकी चुनाव के इतिहास में 152 साल बाद ऐसा कारनामा हुआ था कि कोई शख्स आठ साल वाइस प्रेसिडेंट (Vice President) रहने के बाद राष्ट्रपति बना हो.. बाइडेन भी बराक ओबामा के शासन में आठ साल उप राष्ट्रपति रहे थे.

पहली बार भारतीय मूल की उप राष्ट्रपति बन सकती हैं हैरिस
अगर बाइडेन 2020 का चुनाव जीतते हैं तो उनके द्वारा उप राष्ट्रपति पद के लिए नामित कमला हैरिस भी इतिहास रचेंगी. कमला हैरिस (Kamala Harris) भारतीय मूल की पहली महिला होंगी, जो अमेरिकी राजनीति में इस मुकाम तक पहुंचेंगी. हैरिस अभी कैलीफोर्निया की सीनेटर हैं.

जॉर्ज बुश सीनियर (1988-1992)
जॉर्ज बुश सीनियर रोनाल्ड रीगन का आठ साल का कार्यकाल पूरा होने के बाद राष्ट्रपति बने. बुश सीनियर के कार्यकाल में 1991 में अमेरिका की अगुवाई गठबंधन देशों की फौज ने इराक पर हमला बोला.

बिल क्लिंटन (1992-2000)
डेमोक्रेट प्रत्याशी बिल क्लिंटन (Bill Clinton) ने बुश सीनियर को हराकर 12 साल बाद पार्टी को राष्ट्रपति चुनाव जिताया. मोनिका लेंविस्की प्रकरण में क्लिंटन पर 1998 में महाभियोग चला, सीनेट (Senate) में पार्टी के बहुमत से वह बच गए.

जॉर्ज बुश (2000-2008)
टेक्सास के गवर्नर रहे जॉर्ज बुश जूनियर 2001 से 2008 तक प्रेसिडेंट रहे. क्लिंटन शासन में उप राष्ट्रपति रहे अलगोर (Al Gore) के साथ चुनावी जंग में विजेता का निर्णय कई हफ्तों बाद सुप्रीम कोर्ट से हुआ था. अमेरिका में 11 सितंबर 2001 को सबसे बड़ा आतंकी हमले के बावजूद बुश 2004 का चुनाव भी जीत गए.

बराक ओबामा (2008-2016)
2008 की आर्थिक मंदी की आहट के बीच अमेरिका को उसका पहला अश्वेत राष्ट्रपति बराक ओबामा के तौर पर मिला. उन्होंने रिपब्लिकन जॉन मैक्केन को हराया. 2008 में भी ओबामा और उप राष्ट्रपति बाइडेन ने आसान जीत दर्ज की.

डोनाल्ड ट्रंप (2016-?)
कारोबार से राजनीति में आए रिपब्लिकन प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप ने 2016 में अप्रत्याशित जीत दर्ज की. डेमोक्रेट हिलेरी क्लिंटन (Hilary Clinton) ट्रंप से 29 लाख ज्यादा वोट पाकर भी हार गईं. अमेरिका की महिला राष्ट्रपति बनने का हिलेरी का सपना टूट गया. अमेरिका फर्स्ट की ट्रंप की मुहिम जनता को भा गई.



Posted By:Surendra Yadav






Follow us on Twitter : https://twitter.com/VijayGuruDelhi
Like our Facebook Page: https://www.facebook.com/indianntv/
follow us on Instagram: https://www.instagram.com/viajygurudelhi/
Subscribe our Youtube Channel:https://www.youtube.com/c/vijaygurudelhi
You can get all the information about us here in just 1 click -https://www.mylinq.in/9610012000/rn1PUb
Whatspp us: 9587080100 .
Indian news TV