other  News 

चलो एक मार्च को पश्चिम बंगाल, निकाय चुनाव की तैयारी:अमित शाह

पश्चिम बंगाल में निकाय चुनाव की तैयारी, एक मार्च को अमित शाह करेंगे रैली

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह एक मार्च को पश्चिम बंगाल के कोलकाता में एक रैली को संबोधित करेंगे. माना जा रहा है कि वो इस रैली के जरिए बंगाल के निकाय चुनाव का बिगुल फूंकेंगे. इसके अलावा अमित शाह पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे, इस दौरान बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी होंगे.

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाहकेंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह

  • शाह एक मार्च को कोलकाता में करेंगे रैली
  • निकाय चुनाव का फूंकेंगे अमित शाह बिगुल

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से पहले सेमीफाइनल माने जा रहे निकाय चुनाव को लेकर बीजेपी ने पूरी तरह से कमर कस ली है. निकाय चुनाव को धार देने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह 29 फरवरी की शाम को कोलकाता पहुंचेंगे और अगले दिन यानी एक मार्च को शहीद मीनार मैदान में जनसभा को संबोधित करेंगे, जिसके जरिए पार्टी कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र देंगे.

केंद्रीय गृहमंत्री का पदभार संभालने के बाद अमित शाह का बंगाल का यह दूसरा दौरा है. इससे पहले उन्होंने पिछले वर्ष एक अक्टूबर को नेताजी इंडोर स्टेडियम में एक सेमिनार को संबोधित किया था. शाह कोलकाता में बंगाल बीजेपी के नेताओं के साथ महत्वपूर्ण बैठक करेंगे. इसमें बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहेंगे. माना जा रहा है इसी बैठक में बीजेपी के दोनों शीर्ष नेता निकाय चुनाव को लेकर रणनीति तय करेंगे.

निकाय चुनाव को लेकर कशमकश में बीजेपी

बता दें कि पश्चिम बंगाल प्रदेश के बीजेपी नेता दो विकल्पों को लेकर उलझे हुए हैं. पहला, बीजेपी सीधे चुनावी मैदान में उतरे और दूसरा, पार्टी अदालत जाकर इसके समय का विरोध करे. एक वर्ग चाहता है कि पार्टी पिछले साल हुए लोकसभा चुनाव में बंगाल में मिली जबर्दस्त सफलता के मद्देनजर सीधे चुनाव में उतरे जबकि दूसरे वर्ग का तर्क है कि अगर अप्रैल के मध्य में निकाय चुनाव होंगे तो पार्टी को प्रचार के लिए समय नहीं मिलेगा. ऐसे में चुनाव के समय के विरोध में अदालत का रूख करना ही सही होगा.

पश्चिम बंगाल में निकाय चुनाव अप्रैल में होना है, ऐसे में बीजेपी के पास चुनाव प्रचार का वक्त बहुत ही कम है. इसीलिए बीजेपी नेताओं ने राज्य चुनाव आयुक्त सौरव कुमार दास से मुलाकात कर उन्हें अदालत के दो निर्देश की प्रतियां सौंपी हैं. एक निर्देश में कहा गया है कि बोर्ड की परीक्षाएं चलने तक किसी तरह का प्रचार नहीं किया जा सकेगा. दूसरा निर्देश यह है कि चुनाव कराने के लिए आयोग को चुनाव के दिन तक न्यूनतम 22 दिनों का समय देना पड़ेगा.

अगर निकाय चुनाव 22 अप्रैल को होते हैं तो अदालत के इन दोनों निर्देशों की अवमानना हो सकती है. बंगाल में माध्यमिक, उच्च माध्यमिक, आइसीएससी और आइएससी की परीक्षाएं 30 मार्च को खत्म होंगी, जिसके चलते चुनाव प्रचार के लिए समय कम है. बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह इन सारे मुद्दे पर पार्टी नेताओं के साथ विचार विमर्श करेंगे.



Posted By:Surendra






Follow us on Twitter : https://twitter.com/VijayGuruDelhi
Like our Facebook Page: https://www.facebook.com/indianntv/
follow us on Instagram: https://www.instagram.com/viajygurudelhi/
Subscribe our Youtube Channel:https://www.youtube.com/c/vijaygurudelhi
You can get all the information about us here in just 1 click -https://www.mylinq.in/9610012000/rn1PUb
Whatspp us: 9587080100 .
Indian news TV