National  News 

मध्यप्रदेश मॉब लिंचिंग का पूरा मामला क्या है, जिसमें अब तक 12 लोग गिरफ्तार हो चुके हैं?

मध्यप्रदेश के मॉब लिंचिंग केस में पुलिस ने अब तक 12 लोगों को गिरफ्तार किया है. सीसीटीवी फुटेज के आधार पर 35 लोगों की पहचान की गई थी. यानी अभी और गिरफ्तारियां हो सकती हैं. पहले जानते हैं कि पूरा मामला क्या है.

5 जनवरी को मध्यप्रदेश के धार में क्या हुआ था?

मध्यप्रदेश के धार जिले में तिरला गांव है. यहां 5 जनवरी को बच्चा चोरी के शक में भीड़ ने छह लोगों को बुरी तरह पीटा था. इनमें से एक की मौत हो गई थी, पांच लोग बुरी तरह घायल हुए थे.

जांच हुई तो पता चला कि- इन छह लोगों में से पांच किसान थे और एक ड्राइवर था. गांव के कुछ मजदूरों के पास इनका पैसा था. यही पैसा लेने छह लोग गांव पहुंचे थे. पैसे पर ही बवाल हुआ तो मजदूरों ने हल्ला कर दिया कि ये लोग गांव से बच्चा चुराने पहुंचे हैं. इसी अफवाह के बाद भीड़ ने इन छह लोगों को जमकर पीटा. इसी में एक की मौत हो गई.

302 और 307 के तहत केस फाइल

धार के एसपी आदित्य प्रताप सिंह ने बताया, “वीडियो और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर 35 लोगों की पहचान हुई है. 12 गिरफ्तार हो चुके हैं. हमें शक है कि कुछ आरोपी प्रदेश से बाहर भाग गए हैं. उनकी भी तलाश जारी है. धारा 302 (हत्या) और 307 (हत्या की कोशिश) के तहत मामला दर्ज किया गया है.”

सरपंच जूनापानी का नाम और शिवराज से कनेक्शन

इस पूरे केस में एक नाम काफी ज्यादा सामने आ रहा है- रमेश जूनापानी. जहां लिंचिंग हुई, उसके पास है बोरलाय गांव. रमेश वहां के सरपंच हैं और लिंचिंग केस में आरोपी हैं. उनकी एक फोटो भी सर्कुलेट हो रही है, जिसमें वो प्रदेश के एक्स-सीएम शिवराज सिंह चौहान के साथ दिख रहे हैं. बस ये फोटो आते ही मामला गरम हो गया. शिवराज ने ट्वीट भी किया कि जूनापानी को सिर्फ इसलिए फंसाया जा रहा है, क्योंकि वे भाजपा समर्थक हैं.

Shivraj Singh Chouhan@ChouhanShivraj

धार में मॉब लिंचिंग की घटना में सरपंच रमेश जूनापानी को फंसाया गया है, जबकि उसने बचाने की कोशिश की थी। हम चाहते हैं कि अपराधियों को पहचानकर कड़ी से कड़ी सजा दी जाए, लेकिन निर्दोष व्यक्ति को केवल इस कारण से कि @BJP4MP से जुड़ा हुआ है, उसको परेशान ना किया जाये।

2,862

10:37 AM - Feb 9, 2020

Twitter Ads info and privacy

550 people are talking about this

जवाब में कांग्रेस नेता और प्रदेश में कैबिनेट मंत्री जयवर्धन सिंह ने भी ट्वीट कर शिवराज को आरोपियों का बचाव करने वाला बता दिया.

Jaivardhan Singh@JVSinghINC

कहा था ना....आरोपी आपका लाड़ला है आख़िर धार हिंसा के मुख्य आरोपी पर प्रेम बरसा ही दिया..

मा. शिवराज सिंह जी आरोपियों का बचाव करते हुए आपको शर्म आनी चाहिए.... https://twitter.com/ChouhanShivraj/status/1226372121414160385 …

Shivraj Singh Chouhan@ChouhanShivraj

धार में मॉब लिंचिंग की घटना में सरपंच रमेश जूनापानी को फंसाया गया है, जबकि उसने बचाने की कोशिश की थी। हम चाहते हैं कि अपराधियों को पहचानकर कड़ी से कड़ी सजा दी जाए, लेकिन निर्दोष व्यक्ति को केवल इस कारण से कि @BJP4MP से जुड़ा हुआ है, उसको परेशान ना किया जाये। #MP_मांगे_जवाब

698

11:28 AM - Feb 9, 2020

Twitter Ads info and privacy

157 people are talking about this

आफ्टर इफेक्टः सात मेंबर वाली SIT बनी, छह पुलिसवाले सस्पेंड

लिंचिंग केस की जांच के लिए सात मेंबर वाली स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) बनाई गई है. इस टीम में एएसपी देवेंद्र पाटीदार, सिटी एसपी संजीव मुले और सिटी इन-चार्ज सवाई सिंह नागर भी शामिल हैं. इसके अलावा राज्य के गृहमंत्री बाला बच्चन ने बताया कि लापरवाही बरतने के कारण छह लोगों को सस्पेंड भी कर दिया गया है.



Posted By:ADMIN






Follow us on Twitter : https://twitter.com/VijayGuruDelhi
Like our Facebook Page: https://www.facebook.com/indianntv/
follow us on Instagram: https://www.instagram.com/viajygurudelhi/
Subscribe our Youtube Channel:https://www.youtube.com/c/vijaygurudelhi
You can get all the information about us here in just 1 click -https://www.mylinq.in/9610012000/rn1PUb
Whatspp us: 9587080100 .
Indian news TV