Sports  News 

धोनी ने बताया- उन्हें वर्ल्ड कप की किस बात का अफ़सोस है?

कैप्टन कूल के नाम से मशहूर महेंद्र सिंह धोनी लंबे समय से क्रिकेट से दूर हैं. 2019 के वर्ल्ड कप सेमीफ़ाइनल में टीम इंडिया की हार के बाद से धोनी ने क्रिकेट नहीं खेला है. टीम में उनकी वापसी को लेकर लगातार कयास लगाए जा रहे हैं. न्यूज़ीलैंड के ख़िलाफ़ वर्ल्ड कप सेमीफ़ाइनल में धोनी उस वक्त रन आउट हो गए थे, जब टीम की सारी उम्मीदें उनके ऊपर टिकी थीं. उनके आउट होते ही टीम इंडिया का तीसरा वर्ल्ड कप जीतने का सपना दूर हो गया था.

रन आउट होने के बाद धोनी क्या सोच रहे थे? ये सवाल हम सबके मन में होगा. अब इसका जवाब मिल गया है. ये बात खुद एमएस धोनी ने बताई. इंडिया टुडे के खेल पत्रकार बोरिया मजूमदार से मुलाकात में धोनी ने बताया कि उन्हें उस वक्त रन भागने के दौरान डाइव न लगाने का ताउम्र मलाल रहेगा. 

दरअसल, ये किस्सा इंडिया टुडे के स्पेशल शो ‘इंस्पिरेशन’ में हार्दिक पंड्या के इंटरव्यू के दौरान सामने आया. इस शो को बोरिया मजूमदार होस्ट करते हैं. हार्दिक से पहले इस शो में सचिन तेंडुलकर, रवि शास्त्री, विराट कोहली जैसे दिग्गज क्रिकेटरों का इंटरव्यू हो चुका है.

हार्दिक पंड्या इंडिया टुडे के शो में बोरिया मजूमदार से बात कर रहे थे, उसी दौरान धोनी से जुड़ा ये किस्सा सामने आया.

हार्दिक पंड्या इंडिया टुडे के शो में बोरिया मजूमदार से बात कर रहे थे, उसी दौरान धोनी से जुड़ा ये किस्सा सामने आया.

इसी इंटरव्यू के दौरान, मजूमदार ने हफ्ते भर पहले धोनी से हुई मुलाकात का ज़िक्र किया. उन्होंने बताया कि धोनी कैसे आज भी वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइनल में रन आउट होने का मलाल करते हैं? उस रन आउट की बात करते हुए उनके चेहरे पर अफ़सोस पसर जाता है. धोनी कहते हैं कि दो इंच के फ़र्क से कितना कुछ छिन गया.

धोनी के रन आउट होने से पहले टीम इंडिया के ड्रेसिंग रूम का माहौल कैसा था? हार्दिक पंड्या ने बताया कि टीम को उम्मीद थी कि धोनी अंतिम ओवर में 15-17 रन आसानी से बना सकते हैं. हार्दिक ने कहा कि आखिरी ओवर जिम्मी नीशम फेंकने वाले थे और 14 सालों से क्रिकेट खेल रहे धोनी को पता था कि वो क्या कर सकते हैं. धोनी का रन आउट होना मैच का सबसे बड़ा ट्रॉमा था. हर कोई शॉक में था. सबके चेहरे लटक गए थे. सब कुछ खत्म हो चुका था. हार्दिक ने ये भी बताया कि कई दिनों तक टीम के प्लेयर्स को नींद नहीं आई. उस झटके को भूलना आसान नहीं था.

सेमीफ़ाइनल में धोनी 49वें ओवर की तीसरी गेंद पर दो रन चुराने के प्रयास में रन आउट हो गए थे. मार्टिन गुप्टिल का थ्रो धोनी के क्रीज में पहुंचने से पहले ही विकेट की गिल्लियां उड़ा चुका था. और, उसी रन आउट के साथ टीम का वर्ल्ड कप 2019 का सफ़र वहीं थम गया था. टीम इंडिया वो मैच 18 रनों से हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई थी.



Reported By:ADMIN



Indian news TV