State News 

भारी-भरकम चालान के डर से मां-बाप ने बेटे को कमरे में ही बंद कर दिया

नए ट्रैफिक नियम लागू हो चुके हैं. भारी-भरकम चालान कट रहे हैं. 30 हज़ार, 50 हज़ार, 60 हज़ार के चालान कटने की खबरें लगातार आ रही हैं. इसी बीच एक और खबर आई है. आगरा से. नहीं, यहां किसी का चालान नहीं कटा, लेकिन तगड़े जुर्माने के डर से एक लड़के को कैद हो गई थी. उसके अपने ही घर में. उसके ही मां-बाप ने उसे कमरे में बंद कर दिया था.

क्या है मामला?

आगरा के जसवंतनगर इलाके का मामला है. यहां एक आदमी ने, जिसका नाम धर्म सिंह है, वो एक फैक्ट्री में काम करता है. उसके बेटे मुकेश को बाइक चलाना बहुत पसंद है. बेटे का शौक पूरा करने के लिए दो साल पहले धर्म सिंह ने किसी तरह पैसे जोड़कर उसके लिए एक बाइक खरीद दी. घर में बाइक आई, तो मुकेश, जो नाबालिग है, उसने बाइक से इधर-उधर घूमना शुरू कर दिया.

धर्म सिंह ने बेटे के लिए दो साल पहले बाइक ली थी.

कुछ दिन पहले धर्म सिंह ने सुना कि नए ट्रैफिक नियम लागू हो गए हैं. और अब रूल्स तोड़ने पर भारी-भरकम जुर्माना लग रहा है. तो उसने मुकेश से कहा कि वो बाइक न चलाए, क्योंकि वो नाबालिग है और उसके पास लाइसेंस भी नहीं है. वो नहीं माना. धर्म सिंह ने उसे मनाने की बहुत कोशिश की. उन्हें इस बात का डर था कि अगर चालान कट जाए, तो इतना जुर्माना वो कैसे भरेंगे.

अब बेटा जब नहीं माना, तब परेशान होकर धर्म सिंह ने उसे कमरे में बंद कर दिया. और बाइक की चाबी साथ लेकर फैक्ट्री चले गए. मुकेश कई घंटों तक कमरे में बंद रहा. किसी तरह उसने पुलिस को इसकी जानकारी दी. फिर दो पुलिसवाले आए, और उसे बाहर निकाला.

फिर धर्म सिंह और मुकेश दोनों को थाने ले जाया गया. जहां पुलिस ने बाप-बेटे के बीच समझौता कराया. दोनों घर वापस आ गए. धर्म सिंह का कहना है कि बेटे के पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं है, ऐसे में बाइक चलाते वक्त चालान न कट जाए, इसलिए उन्होंने बेटे को कमरे में बंद किया था.



Reported By:ADMIN
Indian news TV