National News 

और अब अविवाहित भाजपाई मुख्यमंत्री तथा विधायक की नज़र भी कश्मीरी लड़कियों पर

विजय कुमार शर्मा  
सोशल मिडिया के लफंगों के बाद अब अपने राज्य को देश का सबसे खुशहाल राज्य बताने का दावा करने वाले उत्तरी भारत के एक प्रमुख राज्य के मुख्यमंत्री और विधायकों की लार भी कश्मीरी लड़कियों के लिए टपकने लगी है। ट्वीटर पर जहां मुख्यमंत्री के बयान को जमकर ट्रोल किया जा रहा है वहीं भाजपा विधायक के बोल भी सुर्ख़ियों में बने हुए हैं।
अपने बयानों को लेकर अकसर चर्चा में रहने वाले हरियाणा के अविवाहित मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्ट्रर ने कश्मीर की लड़कियों को लेकर विवादित बयान दिया है। खट्टर ने कहा कि आर्टिकल 370 निरस्त होने से कश्मीर से लड़कियों को शादी के लिए लाया सकता है। खट्टर बोले, अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद लोग कह रहे हैं कि अब कश्मीर का रास्ता साफ हो गया है, अब हमलोग कश्मीर से बहू लाएंगे। एक कार्यक्रम में खट्टर ने कहा, 'हमारे मंत्री ओपी धनखड़ अकसर कहते हैं कि वह बिहार से 'बहू' लाएंगे। इन दिनों लोग कह रहे हैं कि अब कश्मीर का रास्ता साफ हो गया है। अब हमलोग कश्मीर से बहू लाएंगे।'

No photo description available.
इससे पहले अपने विवादित बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने अब अनुच्छेद 370 को लेकर विवादित टिप्पणी की थी। सैनी ने कहा था कि देश के मुसलमानों को खुश होना चाहिए कि वे अब बिना किसी डर के 'गोरी' कश्मीरी लड़कियों से शादी कर सकते हैं। यही नहीं, उन्होंने यह भी कहा था कि बीजेपी के कुंवारे नेता भी अब कश्मीर जाकर वहां प्लॉट खरीद सकते हैं और शादी कर सकते हैं।
उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले से आने वाले भाजपा विधायक विक्रम सैनी ने इसी तरह की टिप्पणी की और हिन्दू-मुस्लिम नौजवानों की जम्मू-कश्मीर की लड़कियों से शादी कराने को लेकर कहा कि खतौली विधानसभा के कार्यकर्त्ता बहुत उत्सुक हैं. जो कुंवारे हैं, उनकी शादी वहीं करा देंगे, कोई दिक्कत नहीं है।
आगे उन्होंने कहा, 'कार्यकर्ताओं के फोन आए कि खतौली में भी प्रोग्राम कर लो। मैंने सीओ साहब को फोन किया तो उन्होंने कहा कि आज रहने दो कल कर लेना। हमें भी इनपुट ले लेने को कहा कि क्या हो सकता है. योगी जी की पुलिस है। यहां कोई चूं नहीं करने वाला, इलाज कर देंगे, टांगे तुड़वा देंगे कोई बोल गया तो।'
यह पहली बार नहीं कि सीएम खट्टर ने विवादित बयान दिया हो। पिछले साल भी रेप को लेकर खट्टर ने ऐसी बातें कहीं थीं, जिससे विवाद खड़ा हो गया था। उस वक्त खट्टर ने कहा था, 'सबसे बड़ी चिंता यह है कि ये घटनाएं जो हैं रेप और छेड़छाड़ की, 80 से 90 फीसदी जानकारों के बीच में होती हैं। काफी समय के लिए इकट्ठे (एकसाथ) घूमते हैं, एक दिन अनबन हो गई उस दिन उठाकर एफआईआर करवा देते हैं कि इसने मुझे रेप किया।' खट्टर के इस बयान पर काफी किरकिरी भी हुई थी।

 



Reported By:ADMIN
Indian news TV