International News 

धारा 370 हटने से पाक परेशान, राम माधव बोले- "पाकिस्तान को प्रतिक्रिया देने का हक नहीं"

जयपुर: जम्मू कश्मीर राज्य के पुनर्गठन और राज्य से अनुच्छेद 370 की धारा एक को छोड़कर बाकी प्रावधान हटाने के बाद पाकिस्तान की प्रतिक्रिया भी सामने आई है. पाकिस्तान इस मामले को यूएनओ में ले जाने की बात कह रहा है लेकिन बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री राम माधव का कहना है कि भारत ने अपनी संप्रभुता के क्षेत्र में और अपनी जमीन पर फैसला लिया है, जिस पर पाकिस्तान को प्रतिक्रिया देने का ना तो कोई अधिकार है ना ही जरूरत. राम माधव ने कहा कि अगर पाकिस्तान इस मामले को संयुक्त राष्ट्र संघ में लेकर जाता है तो भारत सरकार अपनी प्रक्रिया के तहत काम करेगी. राममाधव ने कहा कि पाकिस्तान का इस पूरे मामले से सीधे तौर पर कोई लेना देना नहीं है.

बीजेपी के राष्ट्रीय महामंत्री राम माधव ने आगे कहा कि पीओके और अक्साई चीन भी अखंड भारत का ही हिस्सा हैं और संवैधानिक दृष्टि से कश्मीर का पहले ही विलय हो चुका है. पूरा कश्मीर भारत का ही हिस्सा है. उन्होंने कहा कि, दूसरे देशों के अधीन हिस्से को वापस लेने का भी संकल्प लिया जा चुका है. वर्ष 1994 में संसद ने सर्वसहमति से संकल्प को पारित किया था. उन्होंने कहा, यह किसी पार्टी का नहीं बल्कि पूरे देश का विषय है. धारा 370 में पहले भी कई बार संशोधन हुए हैं. उन्होंने कहा, पूरी प्रक्रिया संवैधानिक तरीके से पूरी की गई है.

वहीं कश्मीर के नेताओं को नजरबंद करने के मामले पर राम माधव ने कहा, पॉलीटिकल डिटेंशन एक सामान्य बात है और हमारी पार्टी के नेताओं को भी कई राज्यों में इसका सामना करना पड़ा है. उन्होंने कहा, कई बार परिस्थितियों को देखते हुए फैसले लिए जाते हैं और जल्द ही हालात सामान्य होने पर नेताओं पर से पाबंदी हटा दी जाएगी. उन्होंने कहा, कि वह कश्मीर की राजनीति से लगातार जुड़े रहे हैं. कश्मीर में सुरक्षा बलों की तैनाती और ब्लैक आउट कोई नई बात नहीं है. वहां पहले भी ऐसा हुआ है फिर भी वहां लोगों द्वारा पत्थरबाजी की गई है लेकिन इस बार लोगों ने किसी प्रकार का विरोध नहीं किया. उन्होंने कहा, कश्मीर के लोग खुश हैं. 



Reported By:ADMIN
Indian news TV