National News 

बाबा रामदेव ने तीसरे बच्चे पर राय दी, ओवैसी ने मोदी को बीच में डालकर उनकी मौज ले ली

बाबा रामदेव 2019 के लोकसभा चुनाव में ज्यादा एक्टिव नज़र नहीं आए. लेकिन चुनाव ख़त्म हुआ तो रामदेव ने भी विवादित बयान दे डाला. और अब बाबा के बयान पर औवेसी ने टिप्पणी की है. टिप्पणी में पीएम नरेंद्र मोदी का जिक्र भी है. दरअसल, रामदेव ने रविवार को देश में जनसंख्या नियंत्रण के लिए कानून लाने की पैरवी की थी. हरिद्वार में एक प्रेस कॉन्फ्रैंस करते हुए बाबा ने कहा,

“जिस तरह से देश की जनसंख्या बढ़ रही है उसके लिए भारत तैयार नहीं है और किसी भी सूरत में अगले 50 सालों में भारत की आबादी 150 करोड़ से ज्यादा नहीं होनी चाहिए.”

इसके अलावा बाबा ने कहा,

“यह तभी संभव होगा जब सरकार ऐसा नियम बनाती है कि जिसका भी तीसरा बच्चा होगा, उसे वोट करने से वंचित कर दिया जाए. इसके अलावा तीन बच्चे वालों के चुनाव लड़ने पर भी प्रतिबंध लगे. साथ ही सभी तरह के सरकारी लाभ से भी उन्हें वंचित रखें.”

बाबा की बात पर तीखी टिप्पणी करते हुए औवेसी ने ट्वीट करते हुए कहा

“लोगों को असंवैधानिक बातें कहने से रोकने के लिए कोई कानून नहीं है, लेकिन रामदेव के विचारों को क्यों बेवजह तवज्जो दी जाती है? वो अपने पेट से कुछ कर सकते हैं इसका मतलब यह नहीं है कि नरेंद्र मोदी अपना वोट देने का अधिकार सिर्फ इसलिए खो दें, क्योंकि वह तीसरी संतान हैं.”

Asaduddin Owaisi@asadowaisi

There is no law preventing people from saying downright unconstitutiona things, but why do Ramdev’s ideas receive undue attention?

That he can do a thing with his stomach or move about his legs shouldn’t mean @narendramodi lose his right to vote just because he’s the 3rd kid

Hindustan Times@htTweets

‘Third child should not be allowed to vote’: Ramdev on population control http://bit.ly/2K3z8Oh 

View image on Twitter

10.7K

10:47 AM - May 27, 2019

Twitter Ads info and privacy

4,724 people are talking about this

दरअसल नरेंद्र मोदी, दामोदरदास मोदी और हीरा बेन की तीसरी संतान हैं. पीएम मोदी का जन्म गुजरात के वडनगर में 17 सितंबर 1950 को हुआ था. इसीलिए औवेसी को बाबा के बयान के बाद मौका मिल गया. औवेसी ने मौके को हाथो-हाथ लपका और रामदेव की मौज ले ली.



Reported By:Admin
Indian news TV