National News 

पटरी से उतरी ट्रेन का वीडियो बना रहे पत्रकार को यूपी पुलिस ने पीटा, चेहरे पर पेशाब करने का आरोप

यूपी में एक ज़िला है शामली. यहां 11 जून की देर शाम एक ट्रेन हादसा हुआ. शामली के धीमनपुरा के पास मालगाड़ी ट्रेन डीरेल हो गई. मने पटरी से उतर गई. अब हादसा हुआ तो मौके पर पत्रकार पहुंचेंगे ही. पत्रकार पहुंचे और हादसे की कवरेज करने लग गए. लेकिन तभी एक सफेद शर्ट पहना आदमी भड़क गया और पत्रकार को पीटने लगा. आप पहले पत्रकार की पिटाई का वीडियो देखिए फिर वीडियो की पूरी कहानी बताते हैं.

Embedded video

The Lallantop@TheLallantop

यूपी के शामली में पटरी से उतरी ट्रेन की कवरेज करने गए पत्रकार को पुलिस ने पीटा. पत्रकार ने आरोप लगाया कि पुलिसवाले ने उसका कैमरा छीनने की कोशिश की, गालियां दीं साथ ही चेहरे पर पेशाब किया.

176

8:57 AM - Jun 12, 2019

92 people are talking about this

Twitter Ads info and privacy

इस वीडियो में हमने कई जगहों पर बीप कर दिया है. क्योंकि मारपीट के साथ पत्रकार को गंदी-गंदी गाली दी गई. वीडियो में मार खाने वाले पत्रकार का नाम है अमित शर्मा और पीटने वाला है जीआरपी का सिपाही. हमने पत्रकार अमित शर्मा को फोन करके पूरी घटना की जानकारी ली. जिसपर उन्होंने बताया:

हमें 11 जून की रात 8 बजे के करीब मालगाड़ी के हादसे की खबर मिली थी. हम मौके पर रात 8 से साढ़े 8 के बीच पहुंच गए. मौके पर कई और पत्रकार भी पहुंचे. सभी के साथ हम घटना का वीडियो बना रहे थे. तभी सफेद शर्ट पहना जीआरपी का एक पुलिस वाला आया और उसने कैमरे को धक्का देकर गिरा दिया. मैंने जाकर पूछा कि भाई आपने कैमरा क्यों गिराया है. तो वो हमारे साथ गाली गलौच करने लगा. फिर तुरंत वो हाथापाई पर भी उतर आया. मुझे समझ में आ गया कि किस वजह से ऐसा किया जा रहा है. क्योंकि मारने वालों में टी शर्ट पहने जीआरपी थाना प्रभारी राकेश कुमार भी थे. जिन्होंने पुलिसवाले को पीटने के लिए कहा. मेरे साथ मारपीट हो रही थी तभी दूसरे चैनल वालों ने घटना का वीडियो बनाया. वीडियो बना रहे दूसरे मीडिया कर्मियों के साथ भी उन्होंने बदसलूकी की.

पत्रकार के मुताबिक भ्रष्टाचार की खबर दिखाए जाने से नाराज थे थाना प्रभारी राकेश कुमार

पत्रकार के मुताबिक भ्रष्टाचार की खबर दिखाए जाने से नाराज थे थाना प्रभारी राकेश कुमार

हमने जब पूछा कि मारपीट के पीछे वजह क्या थी. कोई यूं ही तो किसी के साथ मारपीट शुरू नहीं कर देगा. किस वजह से पुलिस वाले इतने भड़के हुए थे. हमारे इस सवाल पर पत्रकार अमित शर्मा ने कहा:

वो मारपीट का मौका ढूंढ रहे थे. दरअसल एक महीने पहले हमने उन लोगों की भ्रष्टाचार की खबर दिखाई थी. जिस खबर का काफी इम्पैक्ट हुआ था. खबर चलाए जाने के बाद से ये सभी खार खाए बैठे थे. कल जब हम मौके पर कवरेज करने पहुंचे, तभी जीआरपी थाना प्रभारी राकेश कुमार ने मुझे पहचान लिया, और पिटाई शुरू करवा दी. पिटाई के बाद मुझे कमरे में बंद किया गया वहां मेरे कपड़े फाड़े गए और मेरे ऊपर पेशाब किया गया.

Embedded video

Manak Gupta@manakgupta

शामली के GRP इंस्पेक्टर राकेश कुमार और सिपाही सस्पेंड किए गए. रिपोर्टर को बाइज़्ज़त छोड़ने का आदेश

484

9:32 AM - Jun 12, 2019

221 people are talking about this

Twitter Ads info and privacy

इस घटना के बाद शामली जीआरपी के थाना प्रभारी राकेश कुमार, और जीआरपी पुलिस कॉन्स्टेबल सुनील कुमार को संस्पेंड कर दिया गया है. सफेद शर्ट पहने सुनील कुमार ही थे जिन्होंने राकेश कुमार के कहने पर पत्रकार की पिटाई की थी.



Reported By:Admin
Indian news TV