State News 

सासण गीर: वर्ल्ड क्लास टेक्नोलॉजी से लैस गीर हाइटेक मॉनीटरिंग सेंटर का मुख्यमंत्री ने किया शुभारम्भ

.....................

  • निरीक्षण के अंतर्गत तमाम सिंहों का एक ही स्थल से मॉनीटरिंग होगा
  • गीर वायरलैस सर्वेलेंस सेल का मुख्यमंत्री द्वारा शुभारम्भ
  • डिजिटल वायरलैस से गीर में मौजूद तमाम कर्मचारियों का भी लोकेशन पता चलेगा
  • पर्यटकों की जिप्सी सहित वन विभाग के तमाम वाहनों का जीपीएस से ट्रेकिंग होगा

.....................

सिंह सहित वन्य प्राणी और जंगल के संरक्षण-संवर्धन के लिए उच्च टेक्नोलॉजी का उपयोग कर गुजरात सरकार ने नये मापदंड स्थापित किए: मुख्यमंत्री

.....................

मुख्यमंत्री श्री विजय रूपाणी ने आज जूनागढ़ के सासण गीर में अब तक की सबसे उच्च और वर्ल्ड क्लास टेक्नोलॉजी से लैस गीर हाईटेक मॉनीटरिंग सेंटर का लोकार्पण किया।

उन्होंने इस अवसर पर कहा कि गुजरात की शान सिंहों के संरक्षण और संवर्धन के लिए आधुनिकतम हाईटेक टेक्नोलॉजी का उपयोग कर पर्यावरण और वन्य प्राणियों की सारसम्भाल की दिशा में राज्य सरकार ने नये मापदंड स्थापित किए हैं।

सासण में यह एक ऐसा सेंटर है जहां से गीर और आसपास के जंगली इलाकों में निरीक्षण के अंतर्गत रखे गए तमाम सिंहों का एक ही स्थल से मॉनीटरिंग होगा और उनकी तमाम एक्टिविटी और व्यवहार का अभ्यास किया जा सकेगा। यह पूरी थीम सिंह के भविष्य को सुरक्षित बनाएगी।

गीर में सिंह दर्शन के लिए प्रतिदिन करीब 150 जिप्सियां ट्रेक पर जाती हैं। इन तमाम जिप्सियों को जीपीआरएस से लैस करके एक ही स्थल पर से उनका मॉनीटरिंग हो सकेगा। एक भी जिप्सी निर्धारित रूट के सिवाय कहीं जाएगी तो तत्काल उसे ध्यान पर लिया जाएगा और पर्यटकों की सुरक्षा के लिए कदम उठाए जाएंगे।

सासण सिंह सदन कैम्पस में हाईटेक मॉनीटरिंग युनिट के अंतर्गत ‘फॉरेस्ट व्हिकल सर्वेलंस सिस्टम’ सफारी जिप्सी सर्वेलंस सिस्टम गीर के सिंहों के संरक्षण के लिए रेडियो टेलीमेटरी मॉनीटरिंग सेल चैकपोस्ट पर लगाया गया है। सीसीटीवी कैमरे भी इसी के अनुसार लगाए गए हैं और डिजिटल वायरलैस सिस्टम लगाया गया है। सन्देश व्यवहार सिस्टम को और ज्यादा प्रभावी बनाने के लिए यह सिस्ट कार्यरत किया गया है।

इस डिजिटल सिस्टम से स्टाफ मूवमेंट का मॉनीटरिंग तेजी से सन्देश व्यवहार को पूर्ण करेगा और तत्काल सहायता भी पहुंचाई जा सकेगी। इसके मॉनीटरिंग के लिए गीर वायरलैस सर्वेलंस सेल का गठन किया गया है।

राज्य सरकार ने गीर में सिंह संवर्धन के लिए डिजिटल वायरलैस सिस्टम को मंजूरी दी है और आज डिजिटल वायरलैस सिस्टम का भी शुभारम्भ किया गया है। पूरा सिस्टम इस प्रकार स्थापित किया गया है कि कवरेज के बाहर कोई कर्मचारी होगा और कवरेज में आएगा तो तत्काल ही उसे दिशा निर्देश दिया जा सकेगा।

वन विभाग में 1000 जितने टेब्लेट भी कर्मचारियों को प्रदान करने का आयोजन भी किया गया है। आज प्रतीकात्मक रूप से कर्मचारियों को टेब्लेट वितरित किए गए।

गीर के चैकिंग नाके पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं और उसका कनैक्शन हाईटेक मॉनीटरिंग सेंटर में कोडलैस सिस्टम से दिया गया है। इसके चलते गीर में प्रवेश करने वाले लोगों की गतिविधियां जानी जा सकेंगी और किसी भी अनाधिकृत प्रवृत्ति पर तत्काल नियंत्रण किया जा सकेगा और इस दिशा में ठोस कार्य किया जाएगा।



Reported By:Admin
Indian news TV