National News 

रैली में भीड़ नहीं जुटी तो रो पड़ीं बीजेपी सांसद

भारत में उत्तर प्रदेश है और उत्तर प्रदेश में है जिला आजमगढ़. आजमगढ़ में लालगंज लोकसभा सीट है. लालगंज से सांसद हैं बीजेपी की नीलम सोनकर. उनका एक वीडियो वायरल हो रहा है. नहीं, कोई विवादित बयान नहीं है. आप लोग विवादित बयान से आकर्षित मत हुआ करो. दरअसल सांसद नीलम सोनकर लालगंज में एक जनसभा को संबोधित करने वाली थीं. वहां पहुंचीं तो देखा कि ‘कुर्सी सभा’ संबोधित करनी पड़ेगी. क्योंकि जन तो आए ही नहीं हैं. भारी मात्रा में खाली कुर्सियां देखकर सांसद नीलम सोनकर की आंखों में आंसू आ गए.

दिक्कत की बात ये थी कि भीड़ जुटाने के लिए सारा इंतजाम किया गया था. नाश्ता पानी छोड़ो, नाच गाने का रंगारंग कार्यक्रम भी था. लेकिन जनता जियो की वजह से मोबाइल में ऐसा लग गई कि कोई और एंटरटेनमेंट सुहाता ही नहीं.

दरअसल कुर्सियों का राजनीति में बड़ा महत्व है. मंच से खाली और भरी कुर्सियों को देखकर नेता अंदाजा लगाते हैं कि उनको कुर्सी मिलेगी या नहीं. अगर चुनाव के पहले जनता की कुर्सी खाली रहती है तो चुनाव के बाद नेता के सांसद या विधायक की कुर्सी पर बैठने का चांस कम हो जाता है. इसीलिए खाली कुर्सी देखकर दिल बैठ जाता है. बहरहाल ऐन मौके पर रोने धोने से बेहतर है 5 साल जनता से कनेक्शन बनाकर रखा जाए.



Reported By:Admin
Indian news TV