National News 

मोदी ने आडवाणी को सहारा दिया, लेकिन इस फोटो की दूसरी खासियत कोई देख नहीं पाया

मोदी ने आडवाणी को सहारा दिया, लेकिन इस फोटो की दूसरी खासियत कोई देख नहीं पाया

Daajyu.TheLallantop@gmail.com जनवरी 15, 2019 08:51 AM

14.06 K
शेयर्स

  

Prime Minister Narendra Modi and Lal Krishna Advani Meets at BJP National Convention

दाईं वाली फोटो देखिए. इसमें भाजपा के दो वरिष्ठ और एक अति-वरिष्ठ राजनीतिज्ञ एक साथ दिख रहे हैं. क्रमशः सुषमा स्वराज, नरेंद्र मोदी और लालकृष्ण आडवानी. ये तस्वीर है भाजपा के दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन के दूसरे दिन की.

ये फोटो अपने आप में एक दस्तावेज़ है. एक संग्रहणीय दस्तावेज़. जैसे की सत्य के होते हैं इस फोटो के भी दो पहलू हैं. यानी इसे दो तरह से देखा जा सकता है. और यूं ये फोटो हमारे मन में बैठ गए दो मिथकों को तोड़ती है.

# पहली तो साफ़ दिखती है. लोग कहते आए थे कि प्रधानमंत्री जी, आडवानी का सम्मान नहीं करते. बल्कि कई बार तो एक वीडियो का हवाला देकर ये भी कह देते हैं कि मोदी, आडवानी का गाहे बगाहे अपमान करते रहते हैं. वीडियो जिसमें मोदी सबका अभिनंदन करते हैं लेकिन आडवाणी के नमस्कार को सर्वथा इग्नोर कर देते हैं. ये तब है जबकि आडवाणी मोदी के राजनितिक गुरु थे.

 

 

https://youtu.be/e9e71VtJutg

(नोट: ऊपर वाले आधे घंटे के वीडियो में केवल वो विवादास्पद क्षण देखने के लिए 29:00 मिनट तक स्किप किया जा सकता है.)

तो अब इस फोटो से, जिसमें उन्होंने आडवानी का हाथ बड़ी गर्मजोशी से पकड़ रखा है, ये पूरी तरह सिद्ध हो जाता है कि मीडिया और विपक्षी लोगों ने खाली-पीली मोदी को बदनाम करने के लिए ये सब गंध फैला दी थी. जिसे मोदी ने एक जेस्चर से धूल-धुसरित कर दिया. मास्टरस्ट्रोक! वाह मोदी जी, वाह!!

तस्वीर साभार - पीटीआई

तस्वीर साभार – पीटीआई

दूसरी बात जो इतनी साफ नहीं दिखती वो है प्रधानमंत्री द्वारा अपनी इस फोटो से एक और मिथक को तोड़ना. और वो मिथक के फोटो खिंचवाने के प्रति मोदी का असीम प्रेम. ये फोटो, जिसमें अपने गुरु को सहारा देने वाले इतने महत्वपूर्ण क्षणों में भी वो कैमरे की ओर नहीं देख रहे हैं, इस बात का सबूत है कि उन्हें अब फोर्थ वॉल ब्रेक करने का कोई शौक नहीं रहा, वो अब इन सब चीज़ों से ऊपर उठ चुके हैं. बल्कि उन्हें इसका कभी भी शौक नहीं था. ये सब, पुनःश्च, मीडिया और विपक्षी पार्टियों का फैलाया हुआ प्रोपेगेंडा था. दुष्प्रचार था. वाकई – एक ही तो दिल है मोदी जी, कितनी बार जीतोगे!



Reported By:Admin
Indian news TV