National News 

राहुल गांधी की रैली में इतनी भीड़ आई कि इंदिरा का रिकॉर्ड टूट गया?

7 दिसंबर को राजस्थान विधानसभा के लिए वोटिंग होगी. सभी पार्टियां चुनाव प्रचार में लगी हैं. राहुल गांधी अभी दो दिन के राजस्थान दौरे से लौटे हैं. सोशल मीडिया पर दाहिनी तरफ वाली तस्वीर काफी शेयर की जा रही है. लोग दावा कर रहे हैं कि राहुल की बीकानेर रैली में 25 लोख लोगों की भीड़ जुटी थी.

पांच राज्यों (मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, मिज़ोरम और तेलंगाना) में चुनाव होने हैं. तारीखों का ऐलान हो चुका है. पार्टियां प्रचार में जुटी हैं. दो किस्म का कैंपेन चल रहा है. एक, फील्ड पर. दूसरा, सोशल मीडिया पर. सारी पार्टियां ये दिखाने में जुटी हैं कि उनके नेता की रैली में सबसे ज्यादा भीड़ जुट रही है. ऐसी ही एक वायरल पोस्ट हमें हमारे एक पाठक ने भेजी है. पोस्ट में दावा किया गया है कि राहुल गांधी की रैली में ऐसी भीड़ आई, ऐसी भीड़ आई कि पूछिए मत.

ये पोस्ट काफी शेयर हो रही है. इसके अलावा और भी कई विडियोज़ शेयर किए जा रहे हैं. ये बताने के लिए कि राहुल की ये रैली कितनी सफल रही.

ये पोस्ट काफी शेयर हो रही है. इसके अलावा और भी कई वीडियोज़ शेयर किए जा रहे हैं. ये बताने के लिए कि राहुल की ये रैली कितनी सफल रही.

क्या है वायरल पोस्ट में?
जिसको ‘अपार’ भीड़ कहते हैं, वही है. एक बड़े से मैदान में खचाखच लोग भरे हैं. ऊपर दाहिनी तरफ राहुल गांधी के चेहरे वाले मार्क लगा है. फोटो में नीचे की तरफ लिखा है-

राहुल गांधी की बीकानेर सभा में उमड़ी 25 लाख की भीड़. टूट गया इंदिरा गांधी का पुराना 20 लाख का रिकॉर्ड.

तस्वीर शेयर करते जो मेसेज लिखा गया है, वो है-

इंदिरा ने पोते ने तोड़ दिया इंदिरा का रिकॉर्ड.

सच क्या है?
पहले तस्वीर का सच जानिए. ये फोटोशॉप्ड तस्वीर है. मतलब, असली तस्वीर को उठाया गया. फिर उसके ऊपर टेक्स्ट मेसेज चिपकाया गया. ऊपर राहुल गांधी की जो फोटो लगी है, वो भी ऐसे ही जोड़ी गई. असली तस्वीर हमें मिली Getty एजेंसी पर. तस्वीर पर लिखे कैप्शन से पता चला कि ये बीकानेर की नहीं, हरियाणा की फोटो है. 10 नवंबर, 2013 को खींची गई. गोहाना में हरियाणा के मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा की एक रैली थी. उसी रैली की फोटो है ये. नीचे असली फोटो देखिए.

वायरल पोस्ट में यही तस्वीर इस्तेमाल हुई है. 2013 की ये फोटो राजस्थान की नहीं, हरियाणा की है.

वायरल पोस्ट में यही तस्वीर इस्तेमाल हुई है. 2013 की ये फोटो राजस्थान की नहीं, हरियाणा की है.

राहुल की बीकानेर रैली की तस्वीरें भी देख लीजिए
10 अक्टूबर को राहुल गांधी बीकानेर में थे. राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी का प्रचार करने. ठीकठाक भीड़ थी उसमें. कुछ ऐतिहासिक जैसा नहीं था.

ये तस्वीर राजस्थान प्रदेश महिला कांग्रेस ने ट्वीट किया. राहुल गांधी दो दिन के राजस्थान दौरे पर थे. ये 10 अक्टूबर को बीकानेर में हुई उनकी संकल्प महारैली की फोटो है.

ये तस्वीर राजस्थान प्रदेश महिला कांग्रेस ने ट्वीट किया. राहुल गांधी दो दिन के राजस्थान दौरे पर थे. ये 10 अक्टूबर को बीकानेर में हुई उनकी संकल्प महारैली की फोटो है.

भारत की सबसे बड़ी रैलियां
आंध्र प्रदेश के वारंगल में एक रैली हुई थी- तेलंगाना महागर्जना. ये अलग तेलंगाना राज्य की मांग के समर्थन में बुलाई गई रैली थी. इसमें 12 से 15 लाख लोग शामिल हुए थे. वो काफी बड़ी रैली थी. कहते हैं कि 1969 में तमिलनाडु के अंदर सी एन अन्नादुराई के अंतिम संस्कार पर करीब डेढ़ करोड़ लोग जमा हुए थे. वैसे जिस तरह कांग्रेस राहुल की बीकानेर रैली को ऐतिहासिक बता रही है, वैसा बीजेपी भी कर चुकी है. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के समय नरेंद्र मोदी ने लखनऊ के रमा बाई आंबेडकर मैदान में एक रैली की थी. तब बीजेपी ने दावा किया था कि ये सबसे बड़ी रैली है. पटना के गांधी मैदान ने भी काफी बड़ी-बड़ी रैलियां देखी हैं. फिर चाहे वो 1974 में जेपी की बुलाई ऐतिहासिक ‘संपूर्ण क्रांति’ रैली हो, या 1995 में लालू यादव का ‘गरीब रैला’. लालू की इस रैली में चार लाख से ज्यादा लोग आए थे.



Reported By:Admin
Indian news TV