State News 

भाजपा में व्यक्ति की नही विचारधारा की पूजा होती है..चंद्रशेखर भाईजी

 

आष्टा। भाजपा में व्यक्ति की पूजा नही,विचारधारा की पूजा होती है,भाजपा का बूथ स्तर से लेकर राष्ट्रीय स्तर तक का कार्यकर्ता एक विचारधारा को लेकर पार्टी में कार्य करता है,वही दूसरी पार्टी में केवल एक खानदान की जयजय कार करने वाले को ही तवज्जो दी जाती है,इस खानदान के खिलाफ निकला एक शब्द उस पार्टी में कार्य करने वाले को बाहर का रास्ता दिखा सकता है,अगर उन्हें मजबूर बंधुआ मजदूर भी कहा जाये तो कोई अतिशयोक्ति नही होगी,ये में इस लिए कह रहा हु की अगर उस पार्टी का कार्यकर्ता नेता बंधुआ मजबूर मजदूर नही होता तो उस दिन उस पार्टी के कार्यकर्ताओं की आवाज उनकी पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के खिलाफ सुनाई देती जिस दिन वे भारत की बर्बादी तक जंग रहेगी जारी का नारा लगाने वालों पर जब देशद्रोह का मुकदमा दर्ज हुआ तब वो धरना आंदोलन में शामिल होने पहुचे,लेकिन किसी एक नेता या कार्यकर्ता ने आवाज नही उठाई की उन्हें उक्त धरने में नही जाना था ये कहना है संघ से भाजपा में संगठन का कार्य देखने की दृष्टि से भेजे गये पूर्व सीहोर जिला प्रचारक श्री चन्द्रशेखर भाईजी का जिन्हें भाजपा किसान मोर्चे की राष्ट्रीय कार्यकारी  में शामिल करने के साथ कृषि एवं गोसंवर्धन विभाग की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी भाजपा संगठन ने सौपी, उक्त जिम्मेदारी मिलने के बाद आज प्रथम आष्टा नगर आगमन पर भाजपा नगर कार्यालय में भाजपा,युवा मोर्चा,किसान मोर्चा,अनुसुचित जाति मोर्चा आदि संगठनों ने भाईजी का भव्य स्वागत सम्मान समारोह आयोजित किया था।

अपने ओजस्वी उदबोधन में भाईजी ने कहा कि बीते 14 साल में मप्र में ग्रामो का भरपूर विकास हुआ है जो धरातल पर नजर आ रहा है,इसके साथ,कृषि विकास के क्षेत्र में भी रिकार्ड कार्य हुए है।

चुनाव आ गये है,कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नही है,चुनाव के प्रमुख मुद्दे बिजली,पानी,सड़क,आदि होते है,मप्र में इन पर इतना कार्य विकास हुआ कि ये मुद्दे ही खत्म हो गये, अब कांग्रेस वा अन्य दल संगठन क्या करे,तो उन्होंने जातिवाद को लेकर समाज को तोड़ने के मुद्दों को हवा देना शुरू कर दिया है,भाईजी ने कहा 2003 के पहले दिग्विजयसिंह के समय जातिवाद को लेकर जो माहौल प्रदेश में नजर आता था उसके बाद इन 10 से 15 वर्ष में वो माहौल कही नजर नही आता था,आज सत्ता पाने के लिए उसी माहौल को उकसाया जा रहा है,लेकिन जनता सब जानती पहचानती है।

सरकार उसी की बनेगी जिसने कार्य किया है।

कांग्रेस के लोग कहते है संघ भाजपा मुस्लिम विरोधी है,ना संघ ना भाजपा मुस्लिम विरोधी है हम जिन्ना विचारधारा के विरोधी है,ओर अब्दुल कलाम विचारधारा के समर्थक है।

भाईजी ने कार्यकर्ताओं के बीच आज अटल जी को भी याद किया उन्होंने कहा एक शिक्षक के घर मे जन्मा व्यक्ति जो एक विचारधारा को लेकर कार्य करते देश के पीएम पद तक पहुचे,भारत रत्न अटल जी चाहते तो सब कुछ कर सकते थे,पा सकते थे लेकिन कभी विचारधारा को ना छोड़ा और ना ही समझौता किया,यही कारण रहा की उनके निधन के बाद विश्व के 193 देशों में उनके निधन से हलचल नजर आई।

चन्द्रशेखर भाईजी ने सभी कार्यकर्ताओं से बिगड़े पर्यावरण को सुधारने के लिए वृक्ष लगाने का आव्हान भी किया।

इस अवसर पर भाजपा के पूर्व जिला मीडिया प्रभारी सुशील संचेती,विधानसभा प्रभारी मुकेश बड़जात्या,विधायक प्रतिनिधि धनरूपमल जैन,युवा मोर्चे के रूपेश राठौर, किसान मोर्चे के कृपाराम मितवाल आदि ने भी सम्बोधित किया।

कार्यक्रम में कालू भट्ट,कुमेरसिंह ठाकुर,जुगल मालवीय,महेन्द्र परमार,नितिन महांकाल,विशाल चौरसिया,सलीम ठेकेदार,ललित धारवा, देवकरण पहलवान,तोषनारायण भूतिया,मनीष धारवा,अवनीश पीपलोदिया,गौरव सोनी,तेजसिंह कप्तान सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।

संचालन मनीष धारवा ने एवं आभार महेन्द्र परमार ने व्यक्त किया।



Reported By:Sushil Sancheti
Indian news TV