International News 

पाकिस्तान में भी होती है गाय की पूजा, जानें क्या है वजह

मीठी (पाकिस्तान): पाकिस्तान के मीठी शहर में पड़ोसी देश भारत की तरह गायें आजाद घूमती हैं. हिन्दुओं में गाय को पवित्र माने जाने के कारण लोग इस रूढिवादी देश में गाय के प्रति धार्मिक सहिष्णुता अपनाते हैं. सिंध प्रांत के इस शहर के निवासी 72 वर्षीय पेंशनभोगी शाम दास ने कहा, ‘‘यहां, मुस्लिम हिन्दुओं की आस्था का सम्मान करते हैं. वे गायों का वध नहीं करते या करते भी हैं तो सुदूरवर्ती इलाकों मेंस, लेकिन हिन्दुओं के घरों के आस पास नहीं.’’ बाकी पाकिस्तान के उलट, मीठी में गायें आराम से रहती हैं. वे जहां चाहें वहां घूमती हैं और सड़कों पर सो जाती हैं.

कई बार मोटरसाइकिलों और अन्य वाहनों को मवेशियों के बीच में से होकर गुजरना पड़ता है.  कई जगह गायों के गुजरने तक वाहन सड़क पर इंतजार करते हैं. मीठी 60 हजार लोगों का हिन्दू बहुल शहर है जबकि पूरे पाकिस्तान में करीब 95 प्रतिशत मुस्लिम आबादी है. शहर में भव्य श्री कृष्ण मंदिर भी है जिसके घंटों की आवाज अक्सर मस्जिदों की अजान की आवाज में घुल जाती है. 

Image result for cow zee news

खास बात यह है कि शहर में एक भी सुरक्षाकर्मी तैनात नहीं है. इसके विपरीत, मीठी से 300 किलोमीटर दूर कराची में हिन्दू हथियारों और सुरक्षा के साये में जीते हैं. कराची के एक हिन्दू पुजारी विजय कुमार गिर ने कहा कि शहर में 360 मंदिर में से केवल एक दर्जन मंदिर अब खुले हैं.

Image result for cow zee news

 उन्होंने कहा, ‘‘बाकी मंदिर बंद हो गये हैं और उनकी जमीन पर अतिक्रमण कर लिया गया है.’’पाकिस्तान मानवाधिकार आयेाग सदस्य मारवी सरमद ने कहा कि पाकिस्तान में हिन्दुओं को उनके धर्म के कारण भारत समर्थित माना जाता है.  इसलिए उन्हें हमेशा पाकिस्तान विरोधी होने के संदेह से देखा जाता है.



Reported By:Admin
Indian news TV