International News 

ईरान कभी परमाणु हथियार न कर सके हासिल, डोनाल्ड ट्रंप ने ब्रिटेन की PM से की बात

वॉशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे से बात की और ईरान परमाणु समझौते और विशेषकर चीन के संबंध में मुक्त एवं निष्पक्ष कारोबार को बढ़ावा देने के मुद्दे पर उनसे चर्चा की. व्हाइट हाउस ने बताया कि टेरीजा मे से बातचीत के दौरान ट्रंप ने कोरियाई प्रायद्वीप में परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर भी चर्चा की. इसके अनुसार ईरान कभी परमाणु हथियार हासिल नहीं कर सके, यह सुनिश्चित करने के लिये राष्ट्रपति ट्रंप ने ‘‘अपनी प्रतिबद्धता’’ जतायी. ट्रंप की यह टिप्पणी ब्रिटिश विदेश मंत्री बोरिस जॉनसन की वॉशिंगटन यात्रा से पहले आई है.

ऐसी संभावना है कि अपनी यात्रा में जॉनसन ट्रंप से ईरान के साथ परमाणु समझौते को खत्म नहीं करने की अपील कर सकते हैं. ब्रिटेन एवं इसके यूरोपीय सहयोगी देश ट्रम्प इसके लिये मनाने में जुटे हैं ताकि वह 12 मई तक इस समझौते से नहीं हटें. राष्ट्रपति ट्रंप ओबामा के शासनकाल में हुए इस समझौते की बराबर आलोचना करते रहे हैं. इस समझौते को ज्वाइंट कॉम्प्रिहेंसिव प्लान ऑफ एक्शन ( जेसीपीओए ) कहा जाता है. परमाणु समझौते को लेकर उनकी जो आपत्तियां हैं, उसके समाधान के लिये ट्रंप ने अमेरिका और यूरोप के लिये 12 मई की समयसीमा तय की है.

जुलाई 2015 में वियना में ईरान एवं पी 5 देश ( संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पांच स्थायी सदस्य देश ) और जर्मनी एवं यूरोपीय संघ के बीच ‘ ईरान परमाणु समझौता ’ हुआ था. व्हाइट हाउस ने बताया, ‘‘दोनों नेताओं ने विशेषकर चीन के संबंध में मुक्त एवं निष्पक्ष व्यापार को बढ़ावा देने के मुद्दे पर चर्चा की.’’ ट्रंप जुलाई में ब्रिटेन की यात्रा करने वाले हैं. 



Reported By:Admin
Indian news TV