International News 

ताइवान में आया इतना जोर का भूकंप की झुक गया पूरा होटल, दो लोगों की मौत, देखें तस्‍वीरें

नई दिल्लीः पूर्व एशिया में स्थित देश ताइवान में मंगलवार की देर शाम तेज भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 6.4 मापी गई. ताइवान में आपातकालीन सेवाओं के विभाग ने कहा कि देश में भूकंप के झटकों के कारण कई इमारते झुक गई है. भूकंप के झटकों से सबसे ज्यादा नुकसान हुआलिन शहर को हुआ है. बताया जा रहा है कि एक होटल की इमारत के ढहने से मलबे में 30 लोग फंस गए हैं. इन भूकंप के झटकों में अब तक 2 लोगों की मौत और 100 लोगों के घायल होने की पुष्टि हुई है.

हुआलिन काउंटी था भूकंप का केंद्र
अमेरिकी भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के मुताबिक इस भूकंप का केंद्र ताइवान का हुआलिन काउंटी था, जिसकी वजह से कई इमारतें ढह गईं. मार्शल होटल के ग्राउंड फ्लोर पर कई लोग दब गए हैं. स्थानीय लोगों की मदद से राहत और बचाव का काम चलाया जा रहा है. स्थानीय मीडिया के मुताबिक, एक होटल की इमारत झुक गई है और एक पुल इस्तेमाल के लायक नहीं रह गया है. जानकारी के अनुसार तीन दिनों में यह दूसरी बार है जब ताइवान की धरती हिली है. रविवार को यहां पर 6.1 तीव्रता का भूकंप आया था. ताइवान दो टेक्‍टॉनिक प्‍लेटों के जंक्‍शन पर स्थित है. इसके चलते यहां भूकंप आते रहते हैं. 

 

दो दिन में दो बार महसूस किए गए भूकंप के झटके

दो दिन में दो बार महसूस किए गए भूकंप के झटके

 

 

दो दिन में दो बार महसूस किए गए भूकंप के झटके
पिछले दो दिनों में ताइवान की राजधानी ताइपे में यह दूसरा झटका है. यह देश का वित्तीय केंद्र भी है और यह नगर देश के उत्तरी भाग में स्थित है. आधिकारिक तौर पर इसका नाम 'रिपब्लिक ऑफ चाइना' है. ताइवान चीन की समुद्री सीमा से मात्र सौ मील की दूरी पर स्थित है. 

सड़कों पर लोगों ने गुजारी रात
स्थानीय मीडिया से बातचीत करते हुए हुआलिन दमकल विभाग ने कहा कि जिन इमारतों को नुकसान हुआ है, वहां से अब तक 28 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है. इमारतों में नुकसान होने के कारण कई लोगों ने पूरी रात, पार्क, स्कूल और दूसरी जगहों पर गुजारी. इसके साथ ही स्थिति पर काबू पाने के लिए आपातकालीन कर्मचारियों की मदद के लिए सेना को भी बुला लिया गया है. भूकंप की वजह से हाइवे और पुलों को भी नुकसान पहुंचा है.

 

ताइवान भूकंप

ताइवान में भूकंप के झटकों से सबसे ज्यादा नुकसान हुआलिन शहर को हुआ है.

 

दो साल बाद वही तारीख, वही तीव्रता
मंगलवार को आए भूकंप से ठीक दो साल पहले 6 फरवरी को ही ताइवान में 6.4 तीव्रता का ही भूकंप आया था. इसमें 117 लोग मारे गए थे. इस भूकंप का केंद्र ताइवान के दक्षिणी शहर ताइनान था. उस समय यहां का गोल्डन ड्रैगन अपार्टमेंट ढह गया था. 17 स्टोरी इस अपार्टमेंट में 256 फ्लैट बने हुए थे.

 

ताइवान भूकंप

भूकंप के झटकों में अब तक दो लोगों की मौत हो गई है.

 

 

भूकंप आने पर क्या करें
- भूकंप के दौरान आपको लिफ्ट का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.
- बाहर जाने के लिए लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें.
- कहीं फंस गए हों तो दौड़ें नहीं. इससे भूकंप का ज्यादा असर होगा.
-अगर आप गाड़ी या कोई भी वाहन चला रहे हो तो उसे फौरन रोक दें.
- वाहन चला रहे हैं तो बिल्डिंग, होर्डिंग्स, खंभों, फ्लाईओवर, पुल से दूर सड़क के किनारे गाड़ी रोक लें.
-भूकंप आने पर तुरंत सुरक्षित और खुले मैदान में जाएं. बड़ी इमारतों, पेड़ों, बिजली के खंभों से दूर रहें.
- भूकंप आने पर खिड़की, अलमारी, पंखे, ऊपर रखे भारी सामान से दूर हट जाएं ताकि इनके गिरने से चोट न लगे.
- टेबल, बेड, डेस्क जैसे मजबूत फर्नीचर के नीचे छिप जाएं.
- किसी मजबूत दीवार, खंभे से सटकर सिर, हाथ आदि को किसी मजबूत चीज से ढककर बैठ जाएं.



Reported By:News Editor
Indian news TV